ताजा ख़बरे

देखे कैसे #चीन ने एक बार फिर दिया भारत को धोखा 20 जाबांज #शहीद हो गए



चीन ने एक बार फिर दिया भारत को धोखा पूर्वी लद्दाख में पीछे हटने के वादे से पलटने वाले चीन ने बातचीत के लिए गए भारतीय सैनिकों पर हमला किया, जिसमें 20 सैनिक शहीद हो गए. आखिर कैसे चीनी सेना ने बड़ी साजिश के तहत हमारे जवानों पर धोखे से हमला किया.

GOOGLE
20 जाबांज शहीद हो गए
लद्दाख से जुड़े चीन बॉर्डर पर भारत और चीनी सेना के बीच जो तनाव अब तक सिर्फ धक्का मुक्की और हाथापाई तक सीमित था वो अब खूनी लडाई में बदल गया है. इस झड़प में भारत के कर्नल सहित 20 जाबांज शहीद हो गए ये खूनी झड़प हुई भारत और चीन सीमा पर गलवान घाटी में. आप को बता दे की करीब एक महीने से दोनों सेनाएं आमने सामने थी वहां कभी आमने सामने जुबानी टकराव हो रहा था तो कभी टकराव सुलझाने के लिए वार्ता हो रही थी लेकिन आखिरकार दोनों सेनाओं ने अपने-अपने कदम पीछे खींच लिए थे. लेकिन  मंगलवार की आधी रात जो हुआ वो पिछले पांच दशक में देखने को नहीं मिला था रात के अंधेरे में अचानक चीन की सेना ने हमला कर दिया जिससे भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए इस घटना पर मंगलवार देर शाम सेना ने अधिकारिक बयान जारी किया जिसमें कहा गया था गलवान घाटी में 14-15 जून की दरमयानी रात को चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प में तीन सैनिक शहीद हो गए थे बाद में उन 17 सैनिकों ने भी दम तोड़ दिया जो इस झड़प में गंभीर रुप से घायल हुए थे इस तरह से कुल 20 सैनिक इस कार्रवाई के दौरान शहीद हुए..




भारतीयसेना की जवाबी कार्रवाई में चीनी सेना को मार गिराया

सेना ने शहीद हुए सैनिकों के लिए फील्ड इन एक्शन शब्द का इस्तेमाल किया जो कि भारतीय सेना किसी भी सैनिक के कर्तव्य निभाते हुए शहीद हो जाने के दौरान करती है भारतीयसेना की जवाबी कार्रवाई में चीनी सेना को भी भारी नुकसान उठाना पड़ा है और बड़ी संख्या में पिपुल्स लिब्रेशन आर्मी के जवान मारे गए है सूत्रों के मुताबिक झड़प के दौरान गंभीर रुप से घायल या मरने वाले चीन सैनिकों की संख्या 43 है सूत्रों के मुताबिक ये भी पता चला है की चीन ने अपने हताहत सैनिकों को गलवान घाटी से एयर लिफ्ट किया है लेकिन चीन इस बारे में कुछ भी खुलासा करने को तैयार नहीं है...चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भी घटना की पुष्टि करते हुए लिखा है चीन और भारतीय सेना के बीच गलवान घाटी में एक गंभीर झड़प हुई है भारत के 3 सैनिक इसमें मारे गए है चीन की सेना ने पुष्टि की है कि दोनों तरफ के इस संघर्ष में सैनिक मारे गए हैं लेकिन मारे गए सैनिकों की वास्तिक संख्या के बारे में जानकारी नहीं दी गई है वही हस घटना पर कांग्रेस के राहुल गांधी ने  पी एम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए क्या कहा की वो अब क्यो छुपे है वो जनता को जावाब दे हम सब सेना के साथ खड़े है।

बेटी ने तस्वीर पर दिया जलाकर दी श्रद्धांजलि

सेना ने शहीद हुए सैनिकों के लिये पूरा भारत आज श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा.. वही सोशल मिडीया पर एक पोस्ट वायरल हो रही जिसमे शहीद कर्नल संतोष बाबू की बेटी उनकी तस्वीर पर दिया जला कर और हाथ जोडकर उन्हे  श्रद्धांजलि दे रही है.


                        बेटी श्रद्धांजलि देते हुए
दोनों देशों के बीच बॉर्डर पर पिछले कुछ दिनों से जो टेंशन चल रही थी उसका अंजाम इतनी खतरनाक हिंसक झड़प के रुप में सामने आएगा इसका किसी को अंदाजा नहीं था. भारत ने साफ साफ बता दिया कि इस झड़प में हमारे 20 जवान शहीद हुए है.चीन की ओर से सैनिकों के हताहत होने की पुष्टि तो हुई  लेकिन अपने मारे गए सैनिकों की संख्या वो छिपाया गया।






No comments