ताजा ख़बरे

पत्रकार विक्रम जोशी की इलाज के दौरान मौत,परिजनों ने शव लेने से किया इनकार

गाजियाबाद के विजय नगर इलाके में गोली लगने से घायल पत्रकार विक्रम जोशी की मौत हो गई है, यशोदा अस्पताल में पत्रकार विक्रम जोशी का इलाज चल रहा था। विक्रम जोशी को विजय नगर इलाके में बदमाशों ने घेरकर गोली मारी थी। विक्रम जोशी पर हमला भांजी से छेड़छाड़ करने पर की थी शिकायत जिसके बाद बदमाशों ने किया था हमला । विक्रम जोशी भाई अनिकेत के अनुसार डॉक्टर ने उन्हें सुबह चार बजे इसकी जानकारी दी। गोली उनके सिर में मारी गई थी। विक्रम को गंभीर हालात में यूपी के गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था। विक्रम के साथ उस समय उनकी बेटियां भी मौजूद थीं। पत्रकार पर हुए हमले के बाद पीड़ित लड़की ने अपने साथ छेड़छाड़ की घटना को लेकर बयान भी दिया था। उसने बताया था कि कैसे आरोपी आते-जाते परेशान करते थे। उधर, पुलिस ने 16 जुलाई को पत्रकार की भांजी के साथ छेड़छाड़ मामले में दी गई शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया है।


बेटियां के सामने मरी गोली 

जानकारी के मुताबिक सोमवार रात जब पत्रकार विक्रम जोशी पर हमला हुआ तब उनकी दो बेटियां भी बाइक पर सवार थीं। बड़ी बेटी के मुताबिक, पापा बाइक चला रहे थे, इसी दौरान जब बाइक सड़क पर आई तो कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया और बाइक गिरा दी। जब पापा ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो वे लोग पापा को मारने लगे। इस दौरान कार के पास ले जाकर एक हमलावर ने उनको गोली मार दी। इसके बाद हमला करने वाले फरार हो गए। इस घटना में परिजन की तरफ से 3 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया है।



विक्रम जोशी के भांजे ने माँगा इंसाफ 

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे का कहना है कि कमाल-उ-दीन के बेटे सहित कुछ लड़के मेरी बहन के साथ छेड़छाड़ करते थे। मेरे मामा घर आ रहे थे, जब कमाल-उ-दीन के बेटे ने उन पर हमला किया और उन्हें गोली मार दी. मुख्य आरोपी के पकड़े जाने तक हम अपने मामा के पार्थिव शरीर को नहीं लेंगे,विक्रम जोशी के भांजे ने यह भी बतया की  मेरी बहन पर ये लोग कमेंट करते थे, मेरे मामा ने विरोध किया। इसके बाद कमाल-उल-दीन के लड़के ने मेरे मामा के सिर में गोली मारी है. मामा मेरी बहन के बर्थडे को सेलिब्रेट करने आ रहे थे और बीच में ही बदमाशों ने घेरकर गोली मार दी. विक्रम जोशी के भांजे ने कहा कि पहले मेरे मामा को 15-20 बदमाशों ने बहुत मारा, फिर गोली मार दी। हम जबतक पहुंचते, तबतक काफी देर हो चुकी थी। हम तो अब इंसाफ चाहते हैं, हमें कमाल-उ-दीन का लड़का चाहिए. पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए भांजे ने कहा कि हमने शिकायत की थी, लेकिन किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।


ओरोपी

अब तक 9 आरोपी गिरफ्तार, प्रताप विहार चौकी इंचार्ज सस्पेंड

गाजियाबाद पुलिस ने रवि, छोटू, मोहित, दलवीर, आकाश, योगेंद्र, अभिषेक हलका, अभिषेक मोटा और शाकिर को गिरफ्तार कर लिया है, इसके अलावा बाकी आरोपियों की तलाश के लिए 6 टीमें बनाई गई हैं। पुलिस को नामजद अभियुक्त आकाश बिहारी की तलाश है, जगह-जगह छापेमारी की जा रही है,वही पत्रकार विक्रम जोशी के परिवारवालों ने प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद्र पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है, इसके बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने चौकी इंचार्ज राघवेंद्र को सस्पेंड कर दिया है, साथ ही पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी प्रथम को सौंप दी गई है।


सीसी  टीवी

सीसीटीवी में कैद हुई गोली मारने की घटना

विजय नगर में युवक विक्रम को गोली मारने की लाइव घटना सीसीटीवी में कैद हुई है, जिसमें युवक अपने बच्चों के साथ सड़क पर पैदल जाता दिखाई दे रहा है। तभी आधा दर्जन युवक बाइक से आते है और उसे घेर लेते है फिर उसके साथ मारपीट करते है। इसी दौरान एक युवक पिस्टल निकाल कर उसे सर में गोली मार देता है, जिसके बाद पत्रकार सड़क पर गिर पड़ता है। इसके बाद सभी हमलावर मौके से फरार हो जाते हैं। घटना बीती रात तकरीबन साढे 10 बजे की है। घटना के बाद पुलिस को इसकी जानकारी दी गई और घायल को अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।


अपडेट

डीएम ने परिवार वालो की मांगे मान ली है 

विक्रम जोशी के परिवार को 10 लाख की आर्थिक मदद, योग्यता के अनुसार पत्नी को नौकरी, बच्चों की मुफ्त शिक्षा और सुरक्षा की मांग को डीएम गाजियाबाद ने मान लिया है। विक्रम जोशी के परिजन और साथी पत्रकार मांग कर रहे हैं कि सरकार विक्रम के बच्चों की मुफ्त पढ़ाई, विक्रम जोशी की पत्नी को नौकरी, परिवार को आर्थिक मदद और सुरक्षा दे। इस पर डीएम ने इन लोगों से मिलकर सभी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया है।




SSP गाजियाबाद का बयान आरोपियों के पास से अवैध हथियार भी बरामद हुआ

पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या मामले में दो मुख्य आरोपियों रवी और छोटू को गिरफ्तार किया गया हैऔर उनके पास से अवैध हथियार भी बरामद हुआ हैः सीनियर सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस


विक्रम जोशी के साथी पत्रकार अस्पताल के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं

पत्रकार की मौत के बाद उनके परिजन और साथी पत्रकार यशोदा अस्पताल के बाहर ही प्रदर्शन कर रहे हैं।

No comments