ताजा ख़बरे

45 मिनट तक कोशिश के बाद भी जिंदगी से जंग हार गए राजीव त्यागी,निशाने पर संबित पात्रा, जानें क्‍या है वजह

कांग्रेस के जाने-माने प्रवक्ता राजीव त्यागी की बुधवार को हार्टअटैक से मौत हो गई। घर पर हार्टअटैक पड़ने के बाद उन्हें परिवारवाले कौशांबी के यशोदा हॉस्पिटल ले गए। वहां डॉक्टरों ने उन्हें करीब 45 मिनट तक बचाने की कोशिश की, लेकिन वे नाकाम रहे।यशोदा हॉस्पिटल के डॉक्टर के मुताबिक, राजीव त्यागी डीबेट के दौरान ही अचानक कोलाप्स कर गए थे। राजीव त्यागी को अचेत देखकर उनके घरवालों ने पहले उन्हें कार्डियक मसाज और सीपीआर दिया। इसके बाद करीब 6:30 बजे उन्हें हॉस्पिटल लाया गया। जब वह हॉस्पिटल पहुंचे तो वह अचेत थे और रिस्पॉन्ड नहीं कर रहे थे। बीपी और पल्स भी नहीं था। इसके बाद हमने अपने अडवांस कार्डियक लाइफ केयर प्रोटोकॉल के तहत उनका इलाज शुरू किया। उन्हें वेंटिलेटर पर लिया और 45 मिनट तक सीपीआर, इंजेक्शन और लाइफ सेविंग ड्रग्स दी। इसके बावजूद वह नहीं बच पाए।


जानिए पात्रा ने राजीव त्‍यागी के लिए क्‍या कहा?

बता दे की राजीव त्‍यागी एक निजी चैनल पर बेंगलुरु हिंसा पर बहस में शामिल हुए थे। जो विडियो वायरल हैं उसमें बीजेपी प्रवक्‍ता संबित पात्रा कहते नजर आ रहे हैं की हमारे घर के जयचंदों ने हमारे घर को लूटा है। अरे नाम लेने में शर्म कर रहे हैं। वो घर जला रहे हैं और यहां जयचंद नाम तक नहीं ले पा रहे हैं। अरे, टीका लगाने से कोई सच्‍चा हिंदू नहीं बन जाता है। टीका लगाना है तो दिल में लगा और कहो कि किसने घर जलाया है।" त्‍यागी बीच में कहते हैं कि 'मैं जवाब देना चाहता हूं। एक और विडियो वायरल है जिसमें डॉक्‍टर कह रहे हैं कि त्यागी को टीवी डिबेट के दौरान ही दिल का दौरा पड़ गया था।


सोशल मीडिया पर क्‍या कह रहे हैं लोग

वही सोशल मीडिया पर कांग्रेस के नेताओं के अलावा बड़ी संख्‍या में यूजर्स ने संविद पात्रा के लहजे और भाषा की तीखी आलोचना कर रहे  है।वही कांग्रेस नेता गौरव पंधी ने लिखा कि 'पात्रा ने राजीव त्‍यागी को गद्दार कहा।


 

एक अन्‍य कांग्रेस नेता ने कुछ पत्रकारों के साथ पात्रा के नाम गिनाते हुए कहा कि इन लोगों ने मीडिया को बेहद जहरीला बना दिया है। कई यूजर्स ने पात्रा को सीधे-सीधे त्‍यागी की मौत का जिम्‍मेदार ठहराया और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

No comments