ताजा ख़बरे

कोरोना का कहर अब तक 40.24 लाख केस - लगातार तीन दिन से 80 हजार से ज्यादा संक्रमित बढ़ रहे, सरकार ने ऑन डिमांड कोरोना टेस्टिंग शुरू की

देश में कोरोना की रफ्तार और तेज हो गई है। बता दे की बीते तीन दिन से 80 हजार से ज्यादा केस आ रहे हैं। वही 2 सितंबर को 82860 केस आए, 3 सितंबर को 84156, जबकि 4 सितंबर को 87115 केस बढ़े। अब देश में कुल संक्रमितों की संख्या 40.24 लाख हो गई है। इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना टेस्टिंग को लेकर एडवाइजरी जारी की है। इसके तहत बिना प्रिस्क्रिप्शन के ऑन डिमांड कोरोना टेस्ट करवाया जा सकेगा।

वही राहत की बात है कि ठीक होने वालों की संख्या भी 31 लाख से अधिक हो चुकी है। अब तक 31 लाख 4 हजार 512 लोग ठीक हो चुके हैं। शुक्रवार को 69 हजार 625 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। अभी 8.43 लाख संक्रमितों का इलाज चल रहा है, जबकि 69 हजार 635 की मौत हो चुकी है। 24 घंटे के अंदर 1,066 लोगों ने दम तोड़ा है।आप की जानकारी के लिए बतादे की  यह आंकड़े covid19india.org के मुताबिक हैं।

वहीं, कोरोना टेस्टिंग का आंकड़ा 11 लाख के पार जा रहा है। 2 सितंबर को 11.72 लाख, जबकि 3 सितंबर को 11.69 लाख टेस्ट किए गए।

कोरोना अपडेट्स

1 - महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर नाना पटोले भी संक्रमित पाए गए हैं। उनकी रिपोर्ट ऐसे समय पॉजिटिव आई है जब दो दिन बाद यानी 7 सितंबर से राज्य का विधानसभा सत्र शुरू होना है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में 3.5% संक्रमित ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। 2% को आईसीयू और 0.5% संक्रमितों को वेंटिलेटर पर रखा गया है।

2 - पंजाब सरकार ने कोरोना मरीजों के घर के बाहर पोस्टर लगाने का अपना पुराना फैसला वापस ले लिया है। पहले से लगे पोस्टर भी हटाने का निर्देश दिया गया है।

3 - सीरो सर्वे में पता चला है कि हरियाणा में 8% लोगों में एंटीबॉडी डेवलप हो चुकी है। मतलब या तो ये लोग संक्रमित हैं या फिर ठीक हो चुके हैं। इनमें भी सबसे ज्यादा असर फरीदाबाद में देखने को मिला। यहां के 25.8% लोगों में एंटीबॉडी पाई गई है। इसके अलावा नूंह में 20.3%, सोनीपत में 13.3%, करनाल में 12.2%, जिंद में 11%, गुरुग्राम में 10.8%, कुरुक्षेत्र में 8.7% लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं।

4 - दिल्ली सरकार ने आठवीं तक के स्कूल 30 सितंबर तक बंद रखने का फैसला किया है। 9 से 12वीं तक के छात्र 21 सितंबर से शिक्षकों की गाइडेंस के लिए स्कूल जा सकेंगे। हालांकि, इसके लिए केंद्र बाद में एसओपी जारी करेगा।

No comments