ताजा ख़बरे

बरेली की दर्दनाक घटना अधेड़ व्यक्ति की हत्या कर पेड़ से बांधकर जलाया...

 बरेली के थाना शीशगढ़ के ग्राम  बरगवां के जंगल मे पेड़ से बांधकर एक अधेड़ व्यक्ति को जला दिया गया पेड़ से लिपटा हुआ शव मिलने से सनसनी फैल गयी

मिली जानकारी के अनुसार बरेली के थाना शीशगढ़ के ग्राम  बरगवां निवासी धर्मपाल 40 पुत्र झुन्डे लाल बीती रात्रि करीब 11 बजे से धर्मपाल सुबह तक घर नही लौटा तो परिवार वालों  को चिन्ता हुई सुबह होते ही तलाश शुरू कर दी गयी गांव के पास जंगल मे सेमल के पेड़ से एक अधजला शव बंधा मिला जिसकी शिनाखत धर्मपाल के रूप में हो गयी । परिवार वालों ने पुलिस को सूचना दी सूचना मिलते ही थाना प्रभारी योगेश कुमार व सीओ बहेडी पुलिस वल के साथ घटना स्थल पर पहुंच गये शव को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिये भेजा गया है।पुलिस मामले की जांच कर रही है।  सूचना मिलते ही एस पी ग्रामीण राजकुमार भी  घटनास्थल पर पहुंच गये तथा घटनास्थल का मुआयना किया। धर्मपाल की हत्या किस कारण से की गयी कही किसी से कोई रंजिश तो नही चल रही है सभी बिंदुओं पर पुलिस जांच में जुट गई है ।

 


आप को बता दे यहां रहने वाले किसान धर्मपाल का पैतृक घर से करीब सौ मीटर की दूरी पर नया घर बन रहा है। घर का निर्माण बीते 20 दिन पहले शुरू हुआ है। स्वजन के मुताबिक, जब से मकान का निर्माण शुरू हुआ है तब से धर्मपाल रात में वही सोते थे। शुक्रवार की रात करीब 11 बजे धर्मपाल घर आए और पत्नी धर्मेंद्री से ठंड लगने की बात कही। इस पर पत्नी ने घर पर सोने की बात कही तो निर्माणाधीन मकान पर मोटर आदि सामान रखा होने की बात कह वह रजाई लेकर वापस वहीं चले गए।

सुबह नौ बजे तक घर नहीं लौटे तो स्वजनों ने तलाश शुरू की। बेटा जितेंद्र घर पहुंचा तो वहां धर्मपाल की सिर्फ चप्पल रखी हुई थी और वह नहीं थे। इस पर धर्मपाल की खाेज शुरू हुई। करीब ढाई बजे घर से करीब एक किलोमीटर की दूरी पर कांता प्रसाद के खाली पड़ खेत में सेमल के पेड़ से कटीले तार से बांधा हुआ उनका जला शव बरामद हुआ। तार की गांठ भी पीछे की तरफ लगी थी। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

घर पर मिला लेटर,पड़ोसी पर लगाया आरोप

थाना प्रभारी शीशगढ़ योगेश कुमार यादव ने बताया कि किसान के घर पर एक लेटर बरामद हुआ है। उसमे लिखा है कि यदि हमें कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार तोताराम होंगे। तोताराम मृतक के पड़ोसी है। बच्चों से भी वह यह बात कहा करते थे। इधर, तोताराम की पुलिस ने तलाश शुरू कि तो वह घर से फरार हो गया। थाना प्रभारी ने बताया कि तोताराम व धर्मपाल के बीच काफी लंबे समय पहले रास्ते का विवाद चल रहा था जो 2004 में कोर्ट के फैसले के बाद खत्म हो गया था। वर्तमान में कोई विवाद नहीं था। लिहाजा, हर बिंदु पर जांच की जा रही है।

No comments