इस बार का करवाचौथ है बेहद खास, बन रहा है खास संयोग, जाने पूजन विधि

karva chauth 2021,karva chauth 2021 date,karva chauth vrat 2021,2021 karva chauth date,karva chauth,karwa chauth 2021,2021 karwa chauth,karva chauth 2021 kab hai,karva chauth kab hai 2021,2021karwa chauth,karva chauth 2021 date time,karva chauth puja vidhi 2021,karva chauth vrat,karva chauth argh,2021 mein karva chauth kab hai,karva chauth 2021 puja timing,karwa chauth vrat 2021,karwa chauth 2021 date,2021 karwa chauth date,karwa chauth 2021 puja

करवाचौथ की कथाओं के साथ करवाचौथ से जुड़ी मान्यताएं भी खास है और आज की तारीख में पड़ने वाले करवाचौथ का भी खास मान्यता है बतादे इस वर्ष करवा चौथ पर एक विशेष संयोग बनने जा रहा है। हिन्दू पंचांग के अनुसार, रोहिणी नक्षत्र में करवा चौथ का चांद निकलेगा। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, इस नक्षत्र में करवा चौथ का व्रत रखना शुभ होता है। इस नक्षत्र में चंद्र दर्शन करने से मनवांछित फल की प्राप्ति होती है।

karva chauth 2021,karva chauth 2021 date,karva chauth vrat 2021,2021 karva chauth date,karva chauth,karwa chauth 2021,2021 karwa chauth,karva chauth 2021 kab hai,karva chauth kab hai 2021,2021karwa chauth,karva chauth 2021 date time,karva chauth puja vidhi 2021,karva chauth vrat,karva chauth argh,2021 mein karva chauth kab hai,karva chauth 2021 puja timing,karwa chauth vrat 2021,karwa chauth 2021 date,2021 karwa chauth date,karwa chauth 2021 puja

जाने शुभ मुहूर्त 

इस बार करवा चौथ 24 अक्टूबर, दिन रविवार को सुबह 03.01 मिनट से चतुर्थी तिथि प्रारंभ होकर सोमवार, 25 अक्टूबर 2021 को सुबह 05.43 मिनट पर चतुर्थी तिथि समाप्त होगी।इस दिन करवा चौथ पूजा का शुभ मुहूर्त 24 अक्टूबर को शाम 5 बजकर 43 मिनट से 6 बजकर 59 मिनट तक रहेगा।ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार रोहिणी नक्षत्र को बेहद शुभ माना जाता है और इस वर्ष शुभ संयोग बन रहा है क्योंकि करवा चौथ का चांद रोहिणी नक्षत्र में निकलेगा। सामान्य रूप से इस दिन 08.07 मिनट पर चांद के दर्शन हो सकते हैं। उसके बाद करवा चौथ व्रत का पारण किया जाएगा

सास बनाकर देती है सरगी

बता दे कि करवाचौथ का व्रत रखने वाली सुहागिन महिलाओं को उनकी सास सरगी बनाकर देती है। एक थाली के अंदर खाने की चीजें रखी जाती है जो सास द्वारा उनकी बहू को दी जाती है। सूर्योदय से पहले सरगी को खाकर करवाचौथ के निर्जला व्रत की शुरुआत की जाती है और रात में चाँद देखने के बाद ही व्रत को तोड़ा जाता है।  सरगी की थाली में ऐसी चीजें रखी जाती है जिसे खाने से भूख-प्यास कम लगती है। यदि सास साथ में नहीं हैं, तो वो आपको पैसे भिजवा सकती है जिससे वो अपने लिए सरगी का सामान खरीद सकें। सरगी की थाली में मुख्य रूप से सुहाग की चीजें, कपडे, फेनिया, फल, सूखे मेवे, नारियल आदि शामिल होता है। 

karva chauth 2021,karva chauth 2021 date,karva chauth vrat 2021,2021 karva chauth date,karva chauth,karwa chauth 2021,2021 karwa chauth,karva chauth 2021 kab hai,karva chauth kab hai 2021,2021karwa chauth,karva chauth 2021 date time,karva chauth puja vidhi 2021,karva chauth vrat,karva chauth argh,2021 mein karva chauth kab hai,karva chauth 2021 puja timing,karwa chauth vrat 2021,karwa chauth 2021 date,2021 karwa chauth date,karwa chauth 2021 puja

जाने पूजन विधि- 

  • इस दिन सूर्योदय से पूर्व उठकर अपने घर की परंपरा के अनुसार सरगी में बनी हुई चीजें खानी चाहिए।
  • स्नानादि करने के पश्चात मंदिर में दीपक प्रज्वलित करके व्रत का संकल्प लें और निर्जला उपवास करें।
  • शुभ मुहूर्त में देवी-देवताओं की तस्वीर स्थापित करें और पूजन व कथा पढ़ें।
  • चंद्रमा निकलने से पहले ही एक थाली में धूप-दीप, रोली, पुष्प, फल, मिष्ठान आदि रख लें।
  • टोटी वाले एक लोटे में अर्घ्य देने के लिए जल भर लें व मिट्टी के बने करवा में चावल भरकर उसमें दक्षिणा के रुप में कुछ पैसे रख दें।
  • एक थाली में श्रंगार का सामान भी रख लें।
  • चंद्रमा निकलने के बाद चंद्र दर्शन व पूजन करें और चंद्रमा को अर्घ्य दें।
  • जल पीकर व्रत का पारण करें व अपने घर के सभी बड़े-बुजुर्गों का आशीर्वाद लें।

Post a Comment

0 Comments