Akhilesh ने की चाचा Shivpal Yadav से मुलाकात,ट्वीट के माध्यम से अखिलेश ने दी जानकारी

akhilesh yadav alliance with shivpal yadav,shivapal yadav on alliance with akhilesh yadav,samajwadi party chief akhilesh yadav exclusive,shivpal singh yadav samajwadi party,akhilesh yadav shivpal singh yadav,akhilesh yadav alliance with uncles party,shivpal yadav samajwadi party,samajwadi party-aam aadmi party alliance,samajwadi party president akhilesh yadav,shivpal yadav vs akhilesh yadav,akhilesh yadav shivpal yadav,shivpal yadav akhilesh yadav

Akhilesh Yadav Meets Shivpal Yadav : उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव  से पहले नेताओं के बीच मुलाकातों का दौर जोरों पर है.  समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को अपने चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव  से मुलाकात की. अखिलेश ने शिवपाल से मुलाकात उनके घर पर जाकर की जिसके बाद अखिलेश यादव ने ट्वीट कर गठबंधन की बात कही ।

अखिलेश ने ट्वीट कर दी जानकारी 

अखिलेश ने ट्विटर पर लिखा, प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी से मुलाक़ात हुई और गठबंधन की बात तय हुई. क्षेत्रीय दलों को साथ लेने की नीति सपा को निरंतर मजबूत कर रही है और सपा और अन्य सहयोगियों को ऐतिहासिक जीत की ओर ले जा रही है. 

45 मिनट तक चली मुलाकात

ये मुलाकात 45 मिनट तक चली, जिसमें कई बातों पर मंथन हुआ. गठबंधन और विलय दोनों विकल्पों पर चर्चा हुई है. शिवपाल 25 से 40 सीट अपने हिस्से में चाहते हैं. शिवपाल ने समीकरण सहित उन सीटों की जानकारी अखिलेश को दी है. दूसरा विकल्प विलय का है. विलय की सूरत में शिवपाल को प्रदेश स्तर पर संगठन में या राष्ट्रीय महासचिव के तौर पर समायोजित करने को लेकर मंथन हुआ. अभी किसी पर भी अखिलेश की ओर से हामी नहीं भरी गई है.

2022 चुनाव के रणनीति के लिये की पहल

उन्होंने सपा में प्रसपा के विलय का विकल्प भी खुला रखते हुये कहा था कि अखिलेश को ही आगे की रणनीति के लिये कोई पहल करनी होगी। पिछले कुछ समय से अखिलेश भी शिवपाल की पहल पर सकारात्मक टिप्पणी करते हुये समय आने पर उनसे बात करने की बात कह रहे थे। गौरतलब है कि 2017 में विधानसभा से पहले अखिलेश द्वारा सपा से बाहर का रास्ता दिखाने के बाद शिवपाल ने प्रसपा का गठन कर चुनाव लड़ा था। इसका सीधा असर सपा के परांपरागत वोटबैंक में बंटवारे के रूप में पड़ा था।

Post a Comment

0 Comments