यूपी के चुनाव में लगातार हो रहा घमासान मंत्री धर्म सिंह सैनी और विधायक विनय शाक्य ने दिया इस्तीफा

ayush minister dharam singh saini,kalyan singh rajat sharma interview,akhilesh yadav,rajat sharma kalyan singh,swami prasad maurya resign,prime minister narendra modi,yogi adityanath akhilesh yadav,charanjit singh channi history,swami prasad maurya resignation,akhilesh yadav on cm yogi,yogi adityanath vs akhilesh yadav,kalyan singh interview on india tv,bihar chief minister nitish kumar,charanjit singh channi swearing in,kalyan singh aap ki adalat mein

विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. आज धर्म सिंह सैनी ने योगी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया और अखिलेश यादव से मुलाकात की. बीजेपी विधायक विनय शाक्य और मंत्री धर्म सिंह सैनी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है बतादे इससे पहले बुधवार को दारा सिंह चौहान और मंगलवार को स्वामी प्रसाद मौर्य ने कैबिनेट से इस्तीफे दिए थे. दोनों नेताओं के इस्तीफे के ठीक बाद अखिलेश यादव से मुलाकात की तस्वीरें साझा की.

वहीं धर्म सिंह सैनी ने राज्यपाल को भेजी चिट्ठी में कहा, ''माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के मंत्रिमंडल में आयुष खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग में राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में रहकर पूर्ण मनोयोग के साथ उत्तरदायित्वों का निर्वहन किया, किन्तु जिन अपेक्षाओं के साथ दलितों, पिछड़ों, किसानों, शिक्षित बेरोजगारों, छोटे एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों ने मिलकर भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत से बीजेपी सरकार बनाने का काम किया, उनकी एवं उनके जनप्रतिनिधियों के प्रति लगातार हो रही उपेक्षात्मक रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के मंत्रिमंडल से इस्तीफा देता हूं.

👉🏻अब तक अब तक योगी कैबिनेट के तीन मंत्री और 11 विधायक इस्तीफा दे चुके हैं। इनमें स्वामी प्रसाद मौर्य, दारा सिंह चौहान और धर्म सिंह सैनी शामिल हैं।

1. स्वामी प्रसाद मौर्य।

2. भगवती सागर।

3. रोशनलाल वर्मा।

4. विनय शाक्य।

5. अवतार सिंह भाड़ाना।

6. दारा सिंह चौहान।

7. बृजेश प्रजापति।

8. मुकेश वर्मा।

9. राकेश राठौर।

10. जय चौबे।

11. माधुरी वर्मा।

12. आर के शर्मा।

13. बाला अवस्थी।

14 धर्म सिंह सैनी।

अखिलेश का बड़ा बयान

अखिलेश यादव ने टिकट बंटवारे को लेकर बड़ा बयान दिया है। एक टीवी चैनल से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों के नामों पर फैसला लेने में कोई दिक्कत नहीं आ रही है। भाजपा के विधायक और मंत्री अगर आ रहे हैं तो हम उनका स्वागत कर रहे हैं। कुछ लोग हमारे यहां आ रहे हैं, तो कुछ हमारे यहां से जाएंगे भी। ऐसे में टिकट तय करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

Post a Comment

0 Comments